Home National अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसी CIA ने ISRO को बर्बाद करने की साजिश रची

अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसी CIA ने ISRO को बर्बाद करने की साजिश रची

51
0

CIA को दुनिया की सबसे बड़ी व प्रभावी जासूसी एजेंसी के रूप में जाना जाता है. CIA अमेरिका में एक समांतर सरकार के रूप में स्थापित हो चुकी है और विभिन्न राष्ट्रों और उनके शासन तंत्र को नियंत्रित करने के लिए इसे विशेषाधिकार दिए गए है। CIA पर दुनिया भर के कई कट्टरपंथियों,राजनायिक हस्तियों की हत्या व अन्य प्रकार की राजनैतिक कांडो के आरोप लगे है।

जाहिर है जब ये एजेंसी पूरी दुनिया मे अपना वर्चस्व स्थापित कर चुकी है तो भारत कैसे अछूता रह जाए। भारत मे कई ऐसीे घटनायें घटी जिसमे CIA के शामिल होने पर संदेह जाहिर हुए है..विशेष रूप से CIA ने भारतीय प्रद्योगिकी और विज्ञान से सम्बंधित कार्यक्रमो में जासूसी और गहराई तक घुसपैठ कर बहुत नुकसान पहुंचाया है… हमारे कई महत्वपूर्ण वैज्ञानिको को CIA ने कथित तौर पर मौत के घाट भी उतार दिया .. इन सब के पीछे सिर्फ एक कारण रहा वो भारत को शक्ति सम्पन्न बनने से रोकना था.. जिससे भारत सदा अमेरिका पर अपनी जरूरतों ( टेक्नोलॉजी और expertise) के लिए निर्भर बना रहे ।

इस लेख में में आपके सामने ऐसे बहुत से तथ्य रखूँगा जिससे आपको पता लगेगा कि किस तरह से अमेरिकी एजेंसी ने एक घृणित रणनीति के तहत हमारे प्रौधोगिकी कार्यक्रम और वैज्ञानिको को नष्ट किया।

श्री नाम्बी नारायण,पूर्व वैज्ञानिक,ISRO ने अपनी आत्मकथा में ISRO में बिताए अपने कार्यकाल के बारे में लिखते है,विशेष रूप से जब वो 1994 के जासूसी प्रकरण में गलत तरीके से फंसा दिए गए थे.. 1994 में ISRO के महत्वपूर्ण दस्तावेजो व रहस्यो को बेचने के आरोप में श्री नारायण पर आरोप लगे पर 1998 में CBI कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट अंगे इन आरोपो से मुक्त किया. इस केस के चलते श्री नाम्बी ने अपने एक साथी वैज्ञानिक डी,सशिकुमार के साथ 50 दिन जेल में बिताए।

अपनी पुस्तक orbit of memories में उन्होंने CIA द्वारा भारतीय पुलिस और खुफिया ऑफिसर्स का इस्तेमाल कर उनके और ISRO के खिलाफ किये गए षडयंत्रो का खुलासा किया है,CIA ने भारतीय  क्रायोजेनिक राकेट इंजन प्रोग्राम के निर्माण व विकास को रोकने के लिए ये षड्यंत्र किया था,उनके अनुसार उनपे जासूसी का ये केस अमेरिकी फ्रांसीसी एजेंसियों द्वारा इस तरह से बना गया था उन्हें उनके ही कार्यकाल में ISRO को एक कब्रिस्तान बनाकर उसमें वैज्ञानिको को दफन कर दिया जाता …

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here