Home World

Breaking News- पाकिस्तान में गृह युद्ध शुरू,पाकिस्तान के टुकड़े होने की आई बारी

1
0
SHARE

पाकिस्तान में पहले ही भुखमरी और नंगई की हालत थी लेकिन अब जिस प्रकार से पाकिस्तान के अंदर इस प्रकार की हरकतें होने लगी हैं और पाकिस्तान के अंदर अब खुद ही गृहयुद्ध जैसी स्थिति बन अपने लिखती है उसको देखने के बाद कोई भी सच्चा देशभक्त चाहेगा कि जल्द से जल्द पाकिस्तान बर्बाद हो चुकी भारत की तरक्की से हमेशा जलने वाला पाकिस्तान किसी न किसी प्रकार से भारत की तरक्की में रोड़ा अटकाना चाहता है और अब क्योंकि उसकी भेजे आतंकवादियों को भारत की वीर सेना लगातार ही जहन्नुम पहुंचा रही है इसको देखकर पाकिस्तान पूरी तरह से भड़का हुआ है.

हमारे शास्त्रों में यह बात कही गई है कि दुष्ट को उसके दुष्टता का परिणाम जरुर मिलता है और अब उसे दुष्टता का परिणाम पाकिस्तान को मिल रहा है जिस दुष्टता से उसने ना सिर्फ भारत पर हमला किया बल्कि समय समय पर भारत में सांप्रदायिक दंगे कराने के लिए भी जिम्मेदार है. भारत में रह रही आबादी मे से ज्यादातर लोग यह मानते हैं कि पाकिस्तान न सिर्फ भारत का दुश्मन है बल्कि अब उससे बात करना बेमानी है. भारत में रह रहे हैं मुसलमानों की आबादी में भी एक बड़ा वर्गीय मानता है कि पाकिस्तान एक जुनून है और वहां जाना खतरे से खाली नहीं यद्यपि वह स्वयं भारत में इस्लामिक राज्य लाने के पक्ष में खड़े नजर आते हैं.

लेकिन अब पाकिस्तान में जिस प्रकार के हालात बन रहे हैं और जैसी खबरें आ रही हैं उसको देखकर भले ही कोई और देश दुखी हो लेकिन हर भारतीय के अंदर खुशी का एक सैलाब उमड़ आएगा जिसने 26 11 के हमले में शामिल हाफिज सईद को बचाने वाले पाकिस्तान की बर्बादी के सपने देखे थे क्योंकि पाकिस्तान की बर्बादी का अब काउंटडाउन शुरू हो चुका है!पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में हालात बेकाबू हो गए हैं।

एक कट्टरपंथी इस्लामी संगठन के प्रदर्शन के दौरान हिसां भड़क गई हैं। इस हिंसा में 6 लोग मारे जा चुके हैं, 200 लोग जख्मी हो गए हैं।

कट्टरपंथियों को रोकने में जुटे 95 पुलिसकर्मी बुरी तरह जख्मी हो गए हैं। इस्लामाबाद को आतंकियों से बचाने के लिए इस्लामाबाद में अनिश्चित काल के लिए सेना की तैनाती कर दी गई है।

हालत ये है कि सभी निजी टेलीविजन चैनलों के साथ ही फेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब जैसी सोशल मीडिया साइट पर भी रोक लगा दी गई है।पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों की कई कट्टरपंथी संगठनों के साथ हिंसक झड़प हुई है। प्रदर्शनकारियों ने वाहनों में आग लगा दी और नेताओं के घरों पर हमले कर दिए।

कट्टरपंथी प्रदर्शनकारी कानून मंत्री जाहिद हामिद के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। हिंसक प्रदर्शनों की ये आग इस्लामाबाद के बाद अब पाकिस्तान के दूसरे शहरों में भी फैल रही है। कराची, लाहौर, रावलपिंडी और पेशावर में भी आंदोलन शुरू हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने कराची से बंदरगाह जाने वाले रास्ते को बंद कर दिया है।

लाहौर में भी समर्थकों ने तीन सड़कों को जाम कर दिया है। पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ के घर की ओर जाने वाले सभी रास्तों की बैरिकेडिंग कर दी गई है। पाकिस्तान ने ओछी हरकत करते हुए इस हिंसा के पीछे भारत का हाथ बताया है।

इस प्रकार की खबरें भले ही पाकिस्तानियों या फिर पाकिस्तान के समर्थकों के लिए बहुत ही दुख की बात हो लेकिन भारत के लिए बेहद ही खुशी की बात है क्योंकि भारत की बर्बादी के सपने देखने वाले लोगों को अपने यहां शरण देने वाला और भारत की बर्बादी क्या सपने देखने वाला पाकिस्तान आज खुद बर्बादी की राह पर खड़ा है.

Loading...

Leave a Reply